Header Ads

 
स्पीकर ऑन है... गलत संदेश दिया दिग्विजय ने, वैसे इंदौर के टिकट को नेताओं ने सीरियसली लिया ही नहीं : सज्जन
14/03/2019 01:02:04
 

इंदौर, 14 मार्च यदा-कदा अपने बयानों से कांग्रेस की किरकिरी करवाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के बोल से एक बार फिर बतंगड़ बन गया। बतंगड़ बाहर नहीं, पार्टी में ही... अपनों के बीच। मंगलवार को एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री कमलनाथ से मोबाइल का स्पीकर ऑन कर लोकसभा प्रत्याशी के लिए शहर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष विनय बाकलीवाल को लेकर की गई चर्चा पर दिग्विजय सिंह कांग्रेस नेताओं के निशाने पर आ गए हैं।


अब इसका विरोध भी ऐसा कि शहर के नेता तक बोल पड़े कि उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। वहीं, यह मामला मुख्यमंत्री और पार्टी संगठन तक पहुंच गया है। पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा ने कहा कि एक वरिष्ठ और अनुभवी नेता के नाते दिग्विजय सिंह को ऐसा नहीं करना था। ऐसा करने से संदेश गलत जाता है। वैसे भी लोकसभा चुनाव के टिकट के लिए नियम और गाइडलाइन है। सभी वरिष्ठ नेताओं के समन्वय से टिकट तय होता है।

हालांकि  इंदौर के टिकट को नेताओं ने सीरियस लिया ही नहीं। अब परिस्थिति काफी बदली हुई है। यहां से तीन मंत्री हैं। कांग्रेस की सरकार है। इससे अच्छा मौका नहीं है लोकसभा चुनाव जीतने का। लोकसभा स्पीकर और सांसद सुमित्रा महाजन का विरोध सत्यनारायण सत्तन कर रहे हैं। हजारों घर तक उनकी पहुंच है। ऐसे में सभी को एकजुट होकर चुनाव लड़ना चाहिए। दूसरे अन्य नेताओं ने भी कहा कि चुनाव सामने हैं। कार्यकर्ता, नेताओं का मनोबल बढ़ाने की जरूरत है न कि उन्हें कमजोर करने की। 

भास्कर : सीएम ने कहा आप हारने वाले कैंडिडेट, बाकलीवाल : टिकट के लिए योग्य हूं

इस वाकये से भले ही कांग्रेस में सरगर्मी हो, लेकिन बाकलीवाल ने चुप्पी साध रखी है। भास्कर ने पूछा कि आप जिन मुख्यमंत्री कमलनाथ केे समर्थक माने जाते हैं, उन्होंने ही आपको कमजोर आंका है। हारने वाला कैंडिडेेट बताया है। ऐसा क्यों? इस पर बाकलीवाल ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया। हालांकि इतना जरूर कहा कि मैं भी लोकसभा चुनाव के टिकट के लिए योग्य हूं। पार्टी टिकट देगी तो चुनाव लडूंगा। 

यहां लड़ाई टिकट की है ही नहीं : प्रदेश कांग्रेस सचिव राजेश चौकसे ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष सर्वोपरि हैं। उनका सम्मान पूरी पार्टी का सम्मान होता है। टिकट अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी से तय होता है। टिकट की लड़ाई ही नहीं है। जो संदेश लोगों के बीच गया, वो ठीक नहीं है।


 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
महिलाओं को सम्मान मिले, इसलिए औरतों के कपड़े पहनकर चलाते हैं बस       Lokswami      
जरा सी बात पर कांग्रेस पार्षद ने निगम कर्मचारी को जड़ा थप्पड़, जानिए क्या है पूरा मामला       Lokswami      
आईपीएल मैचों का पूरा शेड्यूल जारी       Lokswami      
कमलनाथ सरकार को झटका, मप्र हाईकोर्ट ने ओबीसी आरक्षण पर लगाई रोक       Lokswami      
विनायक, पलक और शरद की ब्लैकमेलिंग से तंग होकर की थी भय्यू महाराज ने खुदकुशी       Lokswami      
कांग्रेसियों ने चौकीदार चोर है... के लगाए नारे, भाजपा सांसद महाजन को बताया निष्क्रिय       Lokswami      
मांडू में होगी दबंग-3 की शूटिंग, सलमान, अरबाज आएंगे       Lokswami      
भगोरिया में युवतियों को शादी के लिए भगाने की जद्दोजहद...       Lokswami      
दिग्विजय सिंह ने स्वीकारा चैलेंज, बोले- मैं चुनाव लड़ने को तैयार       Lokswami      
बक्शी के 50 मिनट के संबोधन में मौजूद लोगों ने कई बार तालियां बजाईं।       Lokswami      
आपको इंदौर में भी बहुत मजबूत प्रत्याशी मिलने वाला है, आप बेफिक्र रहिए - प्रियंका गांधी वाड्रा       Lokswami      
कांग्रेस पार्षद ने निगम कर्मचारी से की मारपीट, नाराज कर्मचारियों ने किया विरोध प्रदर्शन       Lokswami      
भाजपा महासचिव विजयवर्गीय और महापौर गौड़ ट्विटर पर बने चौकीदार...लेकिन लोकसभा अध्यक्ष महाजन ने बनाई दूरी       Lokswami      
गुना-शिवपुरी से सिंधिया, छिंदवाड़ा से नकुलनाथ और रतलाम से भूरिया के नाम पर सहमति       Lokswami      
कमलनाथ बोले- दिग्विजय को प्रदेश की सबसे कठिन सीट पर चुनाव लड़ना चाहिए       Lokswami      
मध्यप्रदेश में आधा दर्जन सीटों पर तीन दशक से कांग्रेस का 'सूखा'       Lokswami      
मध्यप्रदेश कांग्रेस में आपस में टकराव, टिकट कटवाने के लिए जोर आजमाइश       Lokswami      
चुनावी बिगुल बजा, फिर भी माहौल ठंडा       Lokswami      
रात 12.30 बजे दो साल की बेटी के साथ राउंड पर इंदौर एसएसपी       Lokswami      
'अतुल्य' आईटी पार्क का शुभारंभ, लेट आने पर खेल मंत्री पटवारी ने सुमित्रा महाजन से मांगी माफी       Lokswami