Header Ads

 
बालिका गृह कांड की एसआईटी जांच में नहीं मिले सेक्स रैकेट चलाने के कोई सबूत
Saturday, Nov 3 2018
 

देवरिया, 03 नवम्बर उत्तर प्रदेश के देवरिया में गत पांच अगस्त को बालिका गृह कांड की एसआईटी की जांच में सेक्स रैकेट चलाने का कोई सबूत नहीं मिला है। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया कि देवरिया बालिका गृह कांड की जांच कर रही एसआईटी को 89 दिन की विवेचना के बाद इस मामले में सेक्स रैकेट चलाने का कोई सबूत नहीं मिला है। एसआईटी ने शुक्रवार की देर शाम अपनी जांच रिपोर्ट का आरोप पत्र मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट तरन्नुम खान की अदालत में दाखिल किया। सूत्रों के अनुसार छेड़खानी सहित लैंगिग अपराधों का कोई साक्ष्य न मिलने पर मामले की सुनवाई कर रहे न्यायाधीश पीके शर्मा ने बालिका गृह कांड के जेल में बंद आरोपियों को रिमांड देने से इंकार कर दिया। गौरतलब हो कि मां विध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं समाज सेवा संस्थान द्वारा संचालित बाल गृह बालिका स्टेशन रोड में इसी साल पांच अगस्त की रात पुलिस ने छापेमारी कर 20 लड़कियाें और तीन लड़कों को मुक्त कराया था। पुलिस एक बालिका के बयान के बाद बाल गृह बालिका से सेक्स रैकेट संचालित होने की बात कहते हुए संचालिका गिरिजा त्रिपाठी, मोहन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मामला हाईप्रोफाइल होने के चलते इसकी विवेचना सरकार ने एसआइटी को सौंप दी थी। दस अगस्त से मामले की विवेचना कर रही एसआइटी टीम बारीकी से छानबीन की और साक्ष्य जुटाये। एसआइटी की शुरूआती जांच में ही सेक्स रैकेट की पुष्टि न होते देख राज्य सरकार ने तत्कालीन एसपी रोहन पी कनय, सीओ सिटी को हटा दिया जबकि कोतवाल, उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया था। इसके बाद एसआइटी ने आरोपी गिरिजा त्रिपाठी, गिरिजा के पति मोहन त्रिपाठी और बेटी कंचनलता को रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी। एसआइटी में शामिल आइपीएस भारती सिंह, विवेचक बृजेश यादव अपनी टीम के साथ शुक्रवार को कचहरी पहुंचे और पास्को अदालत के जज पीके शर्मा के अदालत में आरोप पत्र दाखिल करने तथा आरोपियों की रिमांड अवधी बढ़ाने के लिये अर्जी दी थी लेकिन आरोप पत्र में पास्को,छेड़खानी की धारा न होने पर न्यायाधीश पीके शर्मा ने जेल में बंद आरोपियों को रिमांड देने से इंकार कर दिया। 

 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
भारत पे ने विश्व कप प्रतियोगिता के 11 विजेताओं की घोषणा की       Lokswami      
राजद पहली पर जीरो पर आउट       Lokswami      
भूटान नरेश और प्रधानमंत्री शेरिंग ने मोदी को बधाई दी       Lokswami      
मध्यप्रदेश में बुंदेलखंड के सागर संभाग की चार संसदीय सीट पर भाजपा की हैट्रिक       Lokswami      
आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस ने 151 विधानसभा सीटें जीती       Lokswami      
बडी संख्या में नयी उडानें शुरू करेगी एयर इंडिया       Lokswami      
ट्रैक एंड फील्ड एथलीट गोमती पर लग सकता है 4 साल का बैन       Lokswami      
भारतीय टीम विश्वकप के लिये रवाना       Lokswami      
जम्मू में महिलाओं के लिए विशेष बस सेवा शुरू       Lokswami      
सूर्यवंशम के प्रदर्शन के 20 साल पूरे       Lokswami      
एक्टर बन सकता है अर्जुन: जूही चावला       Lokswami      
स्ट्रीट डांसर 3डी की शूटिंग के दौरान भावुक हुये वरुण       Lokswami      
चंगेज खान का किरदार निभाना चाहते हैं सलमान       Lokswami      
अवैध ठेकों के मामले में जरदारी को 13 जून तक अंतरिम जमानत       Lokswami      
वाहनों के दुरुपयोग पर नवाज से जेल में पूछताछ की अनुमति       Lokswami      
आरआईएसएटी-2बी का सफल प्रक्षेपण, सुरक्षा बलों- आपदा एजेंसियों को मिलेगी मदद       Lokswami      
उत्तर कोरिया ने जो बिडेन पर साधा निशाना       Lokswami      
पक्ष और विपक्ष जनादेश का सम्मान करे : पासवान       Lokswami      
फर्जी एग्जिट पोल से निराश न हो कार्यकर्ता : राहुल       Lokswami      
केसीसी करेगा आठ महीने के एरियर का भुगतान       Lokswami