Header Ads

 
कोलकाता हिंसा के लिए भाजपा जिम्मेदार:तृणमूल
Wednesday, May 15 2019
 

नयी दिल्ली, 15 मई तृणमूल कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी भाजपा के अध्यक्ष पर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का आरोप लगते हुए मंगलवार को कोलकाता में हुई हिंसा तथा बंगाल पुनर्जागरण के नायक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ने के लिए भारतीय जनता पार्टी भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है और उनके रोड शो को आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करार दिया है। तृणमूल नेता डेरेक ओ ब्रायन ने बुधवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कोलकाता में मंगलवार की हिंसा से सम्बंधित वीडियो भी दिखाकर दावा किया कि भाजपा ने राज्य के बाहर से ‘गुंडों’ को बुलाकर इस हिंसा को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि जब श्री शाह का रोड शो विद्यासागर कालेज के पास पहुंचा तो छात्रों ने काले झंडे दिखाये जो उनका लोकतांत्रिक अधिकार है। इसके बाद भाजपा के गुंडों ने हिंसा शुरू कर दी और पथराव भी किया तथा बंगाल के नवजागरण के नायक विद्यासागर की प्रतिमा भी तोड़ दी। उन्होंने कहा कि यह बंगाल के इतिहास का सबसे दुखद दिन है जब ऐसे व्यक्ति की प्रतिमा क्षतिग्रस्त की गयी जो देश का बड़ा दार्शनिक, शिक्षाविद और राष्ट्रीय प्रतीक है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने बंगला संस्कृति एवं मूल्य पर हमला किया है। श्री शाह और उनके लोगों को क्या मालूम कि विद्यासागर कौन है। विद्यासागर को विकीपीडिया से नहीं जाना जा सकता। वह बंगाल के घर-घर में और वर्णमाला की किताबों में मौजूद है तथा हर बंगाली बचपन से उनको जानते हुए बड़ा हुआ है। तृणमूल नेता ने कहा कि श्री शाह और उनकी पार्टी रोज झूठ बोलती है। मंगलवार की हिंसा के बारे में भी वह झूठ बोल रहे हैं। श्री शाह ने तो रवीन्द्र नाथ टैगोर का जन्म स्थान वीरभूमि बता दिया। उनको तो यह भी नहीं पता कि कवि टैगोर कहाँ जन्मे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल के लोग भी भाजपा से मिले हैं और मतदान में उनकी मदद कर रहे हैं। उन्होंने अपने आरोप के सबूत में एक तस्वीर भी दिखाई जिसमे एक अर्द्धसैनिक बल भाजपा कार्यकर्ताओं और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के साथ है। उन्होंने कहा कि वह पहले तीन बार इस बात की शिकायत कर चुके हैं। संवाददता सम्मेल्लन में मौजूद तृणमूल नेता और राज्यसभा सदस्य मनीष गुप्ता ने आरोप लगाया कि श्री शाह के रोड शो में पोस्टर और बड़े-बड़े कट आउट निकालने की अनुमति चुनाव आयोग ने क्यों दी और उस शो में धार्मिक नारे लगाये गये। यह तो आदर्श आचार चुनाव संहिता का सरासर उल्लंघन है। उन्होंने चुनाव आयोग के एक उप आयुक्त पर चुनाव में पुलिस के कार्य में हस्तक्षेप करने का भी आरोप लगाया। 

 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
रोहिंग्याओं की वापसी पर भारत-बंगलादेश सहमत       Lokswami      
सोनिया को अनुच्छेद 370 पर अपनी राय स्पष्ट करनी चाहिए :शिवराज       Lokswami      
अनन्या पांडे की एक्टिंग से खुश डायरेक्टर ने दिया 500 रुपये इनाम       Lokswami      
“मैं तो रस्ते से जा रहा था” को रिक्रियेट करेंगे वरूण-सारा       Lokswami      
दिग्गज संगीतकार खय्याम का निधन       Lokswami      
फुटबॉल कोच का किरदार निभायेंगे अजय देवगन       Lokswami      
ऑक्सफोर्ड में स्पीच देंगे ऋतिक रोशन       Lokswami      
पुनीत इस्सर के बेटे सिद्धांत को लॉन्च करेंगे सलमान       Lokswami      
सड़क 2 को खास फिल्म मानती है आलिया भट्ट       Lokswami      
अमेरिकी अर्थव्यवस्था में नहीं आएगी मंदी: कुडलो       Lokswami      
सीरियाई सेना ने इदलिब के प्रमुख शहर पर किया कब्जा       Lokswami      
हांगकांग में हिंसा का असर अमेरिका-चीन व्यापारिक समझौते पर: ट्रम्प       Lokswami      
युगांडा में तेल टैंकर में आग लगने से 20 की मौत, कई घायल       Lokswami      
पश्चिमी प्रशांत महासागर में भूकंप के झटके       Lokswami      
काबुल में आत्मघाती हमले की अमेरिका ने की निंदा       Lokswami      
एंटोनियो गुटेरस से मिलेंगे माइक पोम्पियो       Lokswami      
मध्यप्रदेश में खिलाड़ियों को दिया जाएगा ओपन फोरम : पटवारी       Lokswami      
पाकिस्तान भारत के साथ तनाव कम करे-ट्रंप       Lokswami      
पिछले 24 घंटों के दौरान सीरिया में आतंकवादियों ने 31 हमले किये       Lokswami      
कश्मीर मुद्दे का संरा घोषणा पत्र के अनुसार समाधान हो: चीन       Lokswami