Header Ads

 
कोलकाता हिंसा के लिए भाजपा जिम्मेदार:तृणमूल
Wednesday, May 15 2019
 

नयी दिल्ली, 15 मई तृणमूल कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी भाजपा के अध्यक्ष पर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का आरोप लगते हुए मंगलवार को कोलकाता में हुई हिंसा तथा बंगाल पुनर्जागरण के नायक ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ने के लिए भारतीय जनता पार्टी भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है और उनके रोड शो को आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करार दिया है। तृणमूल नेता डेरेक ओ ब्रायन ने बुधवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कोलकाता में मंगलवार की हिंसा से सम्बंधित वीडियो भी दिखाकर दावा किया कि भाजपा ने राज्य के बाहर से ‘गुंडों’ को बुलाकर इस हिंसा को अंजाम दिया। उन्होंने कहा कि जब श्री शाह का रोड शो विद्यासागर कालेज के पास पहुंचा तो छात्रों ने काले झंडे दिखाये जो उनका लोकतांत्रिक अधिकार है। इसके बाद भाजपा के गुंडों ने हिंसा शुरू कर दी और पथराव भी किया तथा बंगाल के नवजागरण के नायक विद्यासागर की प्रतिमा भी तोड़ दी। उन्होंने कहा कि यह बंगाल के इतिहास का सबसे दुखद दिन है जब ऐसे व्यक्ति की प्रतिमा क्षतिग्रस्त की गयी जो देश का बड़ा दार्शनिक, शिक्षाविद और राष्ट्रीय प्रतीक है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने बंगला संस्कृति एवं मूल्य पर हमला किया है। श्री शाह और उनके लोगों को क्या मालूम कि विद्यासागर कौन है। विद्यासागर को विकीपीडिया से नहीं जाना जा सकता। वह बंगाल के घर-घर में और वर्णमाला की किताबों में मौजूद है तथा हर बंगाली बचपन से उनको जानते हुए बड़ा हुआ है। तृणमूल नेता ने कहा कि श्री शाह और उनकी पार्टी रोज झूठ बोलती है। मंगलवार की हिंसा के बारे में भी वह झूठ बोल रहे हैं। श्री शाह ने तो रवीन्द्र नाथ टैगोर का जन्म स्थान वीरभूमि बता दिया। उनको तो यह भी नहीं पता कि कवि टैगोर कहाँ जन्मे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल के लोग भी भाजपा से मिले हैं और मतदान में उनकी मदद कर रहे हैं। उन्होंने अपने आरोप के सबूत में एक तस्वीर भी दिखाई जिसमे एक अर्द्धसैनिक बल भाजपा कार्यकर्ताओं और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के साथ है। उन्होंने कहा कि वह पहले तीन बार इस बात की शिकायत कर चुके हैं। संवाददता सम्मेल्लन में मौजूद तृणमूल नेता और राज्यसभा सदस्य मनीष गुप्ता ने आरोप लगाया कि श्री शाह के रोड शो में पोस्टर और बड़े-बड़े कट आउट निकालने की अनुमति चुनाव आयोग ने क्यों दी और उस शो में धार्मिक नारे लगाये गये। यह तो आदर्श आचार चुनाव संहिता का सरासर उल्लंघन है। उन्होंने चुनाव आयोग के एक उप आयुक्त पर चुनाव में पुलिस के कार्य में हस्तक्षेप करने का भी आरोप लगाया। 

 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
भारत पे ने विश्व कप प्रतियोगिता के 11 विजेताओं की घोषणा की       Lokswami      
राजद पहली पर जीरो पर आउट       Lokswami      
भूटान नरेश और प्रधानमंत्री शेरिंग ने मोदी को बधाई दी       Lokswami      
मध्यप्रदेश में बुंदेलखंड के सागर संभाग की चार संसदीय सीट पर भाजपा की हैट्रिक       Lokswami      
आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस ने 151 विधानसभा सीटें जीती       Lokswami      
बडी संख्या में नयी उडानें शुरू करेगी एयर इंडिया       Lokswami      
ट्रैक एंड फील्ड एथलीट गोमती पर लग सकता है 4 साल का बैन       Lokswami      
भारतीय टीम विश्वकप के लिये रवाना       Lokswami      
जम्मू में महिलाओं के लिए विशेष बस सेवा शुरू       Lokswami      
सूर्यवंशम के प्रदर्शन के 20 साल पूरे       Lokswami      
एक्टर बन सकता है अर्जुन: जूही चावला       Lokswami      
स्ट्रीट डांसर 3डी की शूटिंग के दौरान भावुक हुये वरुण       Lokswami      
चंगेज खान का किरदार निभाना चाहते हैं सलमान       Lokswami      
अवैध ठेकों के मामले में जरदारी को 13 जून तक अंतरिम जमानत       Lokswami      
वाहनों के दुरुपयोग पर नवाज से जेल में पूछताछ की अनुमति       Lokswami      
आरआईएसएटी-2बी का सफल प्रक्षेपण, सुरक्षा बलों- आपदा एजेंसियों को मिलेगी मदद       Lokswami      
उत्तर कोरिया ने जो बिडेन पर साधा निशाना       Lokswami      
पक्ष और विपक्ष जनादेश का सम्मान करे : पासवान       Lokswami      
फर्जी एग्जिट पोल से निराश न हो कार्यकर्ता : राहुल       Lokswami      
केसीसी करेगा आठ महीने के एरियर का भुगतान       Lokswami