Header Ads

 
कर्नाटक और गुजरात की गल्तियों से ली सीख, तीन प्रदेशों में बनाएंगे सरकार : कमलनाथ
Thursday, Dec 6 2018
 

भोपाल, 06 दिसंबर कांग्रेस की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने आज कहा कि पार्टी ने कर्नाटक और गुजरात की गल्तियों से सीख ली है और पार्टी के पास मध्यप्रदेश में 140 से ज्यादा सीटें आ रही हैं। आज यहां संवाददाताओं से चर्चा के दौरान श्री कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने प्रदेश में एक-एक क्षेत्र का अध्ययन किया है। कांग्रेस के पास 140 से ज्यादा सीटें आ रहीं हैं। गुजरात और कर्नाटक में पार्टी से जो गल्तियां हुईं, उनसे भी सीख ली गई है। उन्होंने सत्तारूढ दल भारतीय जनता पार्टी पर चुनाव में धनबल के दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा को पैसे बांटने से भी कुछ नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता समझदार है और मतदाताओं ने प्रदेश और विकास के हित में मत दिया है। इस दौरान उन्होंने आगे कहा कि प्रशासनिक दुरुपयोग का पूरा प्रयास हुआ, लेकिन प्रशासनिक तंत्र ने किसी प्रकार का पक्षपात नहीं किया, जिसके लिए तंत्र बधाई का पात्र है। प्रदेश में व्यवस्था परिवर्तन पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि अंग्रेजों के जमाने से चली आ रही व्यवस्था के तहत कई पदनाम आज भी वही हैं, जो उस समय थे। उन्होंने इस क्रम में कलेक्टर का उदाहरण देते हुए कहा कि 'कलेक्ट' करने वाले को ये नाम दिया गया। अब इस सोच में बदलाव की जरूरत है। उन्होंने कहा कि नाम में नहीं 'पोस्ट' में बदलाव की बात है। उन्होंने बिना किसी का नाम लिया कहा कि देश में सीबीआई और आरबीआई जैसे संस्थानों में भी विभाजन हो गया है। ये बांटने की राजनीति है। क्या इससे कोई सरकार चल सकती है। प्रदेश में कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री पद के दावेदार होने से जुडे सवाल पर उन्होंने कहा कि उन्हें इसकी कोई चिंता नहीं है। आज कांग्रेस की ओर से सभी दावेदारों को मतगणना से जुडा प्रशिक्षण दिए जाने के संदर्भ में श्री कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने निर्वाचन आयोग से कहा है कि हर राउंड के बाद मतों की घोषणा के दौरान वे प्रत्याशियों के हस्ताक्षर ले लें। ये कदम उनके लिए भी लाभकारी होगा। प्रशिक्षण स्थल पर लगे पोस्टरों में पार्टी की चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया की तस्वीर नहीं होने पर उन्होंने कहा कि लोग अतिउत्साह में ऐसी पोस्टरबाजी करते हैं। इस दौरान उन्होंने दावा किया कि भाजपा के कई नेता चुनाव के बाद भी उनके संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी मध्यप्रदेश के साथ छत्तीसगढ और राजस्थान में भी सरकार बनाने जा रही है और कल के एग्जिट पोल में ये बात साफ हो जाएगी। प्रदेश में 28 नवंबर को मतदान के बाद 11 दिसंबर को नतीजों के साथ अगली सरकार की तस्वीर साफ हो जाएगी। 

 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
तुम हालातों की भट्टी में जब-जब भी मुझको झोंकोगे तब तपकर सोना बनूंगा मैं, तुम मुझको कब तक रोकोगे       Lokswami      
पुलवामा हमले के समय कहां थे मोदी: कांग्रेस       Lokswami      
कुवैत में 161 कैदियों को रिहा करने का आदेश       Lokswami      
सीरिया में 200 अमेरिकी शांति सैनिक रहेंगे मौजूद: व्हाइट हाउस       Lokswami      
मंडावा में अंतरराष्ट्रीय घुडदौड प्रतियोगिता दो मार्च से       Lokswami      
परिवहन मंत्री ने किया स्कूल बसों का निरीक्षण       Lokswami      
बस्तर की स्थिति बताने तीन सौ से ज्यादा सायकल यात्री यात्रा पर       Lokswami      
कमलनाथ की लोगों से स्वाइन फ्लू से बचाव की अपील       Lokswami      
दिल्ली में बादलों की लुका-छिपी, वायु गुणवत्ता सामान्य       Lokswami      
रूपहले पर्दे को अपनी दिलकश अदाओं से सजाया मधुबाला ने       Lokswami      
पंजाबी फिल्म में काम करेंगी जरीन खान       Lokswami      
दीपिका की पसंद के कपडे पहनते हैं रणवीर       Lokswami      
कंगना के साथ काम नहीं करना चाहते हैं अली अब्बास जफर!       Lokswami      
भारत-कोरिया के बीच कई महत्वूपर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर       Lokswami      
आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई का समय आ गया: मोदी       Lokswami      
सुरक्षा परिषद के बयान से पाकिस्तान पर दबाव बढा: भारत       Lokswami      
मादुरो ने ईयू से मानवीय सहायता लेने पर दी रजामंदी       Lokswami      
मोदी को सोल शांति पुरस्कार, पुरस्कार राशि नमामि गंगे को समर्पित       Lokswami      
कूरियर कंपनी के प्रबंधक से चार लाख 70 हजार की लूट       Lokswami      
इलेक्ट्रानिक्स दुकान से डेढ लाख रूपये की संपत्ति की चोरी       Lokswami