Header Ads

 
अमेरिका में ब्रिटेन के राजदूत ने दिया इस्तीफा
Thursday, Jul 11 2019
 

लंदन 11 जुलाई ब्रिटेन के वरिष्ठ राजनयिक एवं अमेरिका में ब्रिटेन के राजदूत किम दारोच ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन के लिए महत्वपूर्ण ईमेल के लीक होने से संबंधित विवाद के जोर पकडने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सर किम ने विदेश मंत्रालय को पत्र लिखकर कहा है कि वह अपने पद को लेकर लगायी जा रही अटकलाें पर विराम लगाना चाहते हैं। उन्होंने कहा, “मौजूदा हालात में मेरा काम करना नामुमकिन है।” व्हाइटहॉल के सूत्रों ने बताया कि सर किम ने सत्तारूढ कंजरवेटिव पार्टी के नेता बनने के प्रबल दावेदान बोरिस जॉनसन के उनकी मदद करने से इंकार करने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इससे जहां एक ओर बडी संख्या में लोग सर किम के समर्थन में खडे हो गये हैं, वहीं श्री जॉनसन को कडी अालोचना झेलनी पड रही है। निवर्तमान प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने श्री किम को पूरा समर्थन देने की पेशकश की है। गौरतलब है कि सर के ईमेल सार्वजनिक होने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ने उन्हें ‘एक बहुत बेवकूफ व्यक्ति’ कहा था। इन ईमेल में सर किम ने ट्रंप प्रशासन को ‘बेढंगा और अयोग्य’ कहा था। 

 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
धनखड पश्चिम बंगाल के और फागु चौहान बिहार के नये राज्यपाल       Lokswami      
टैंकर के चालक दल के 23 सदस्यों में भारतीय भी       Lokswami      
रूस का नाटो से सैन्य वार्ता फिर शुरू करने पर जोर       Lokswami      
संरा ने जापान में आगजनी हमले में लोगों की मौत पर दुख प्रकट किया       Lokswami      
रूस सुनिश्चित करे कि ईरान इसके नागरिकों के अधिकारों का सम्मान करे: कोसाचेव       Lokswami      
डेयरी उद्योग को लेकर दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति को एनजीटी की फटकार       Lokswami      
खुद को मिसफिट एक्टर समझता था :अनिल कपूर       Lokswami      
आलिया भट्ट को अपनी प्रेरणा मानती हैं अनन्या पांडे       Lokswami      
अल्जीरिया 29 साल बाद फिर बना अफ्रीका चैंपियन       Lokswami      
धोनी ने खुद को विंडीज दौरे से किया अलग       Lokswami      
पटेल की शानदार पारी के बावजूद हारा भारत ए       Lokswami      
दिव्या दत्ता को गौर गोपाल दास ने उबारा डिप्रेशन से       Lokswami      
मिशन मंगल की स्क्रिप्ट काफी बेहतरीन :विद्या बालन       Lokswami      
गायक बनने की तमन्ना रखते थे आनंद बख्शी       Lokswami      
39 वर्ष की हुयीं ग्रेसी सिंह       Lokswami      
प्रियंका की गिरफ्तारी प्रजातंत्र का दमन : कांग्रेस       Lokswami      
सिद्धू का इस्तीफा मंजूर ,अमरिंदर संभालेंगे बिजली विभाग का कामकाज       Lokswami      
टंडन को राज्यपाल बनाए जाने पर कमलनाथ ने दी शुभकामनाएं       Lokswami      
प्रियंका को रोकना भाजपा की फासिस्‍टवादी सोच: अजय       Lokswami      
आईसीजे के फैसले के बाद पाकिस्तान जाधव को राजनयिक मदद प्रदान कराने पर राजी       Lokswami