Header Ads

 
अफगानिस्तान के आफताब पर एक साल का बैन
Thursday, Jul 11 2019
 

काबुल, 11 जुलाई अफगानिस्तान के तेज गेंदबाज आफताब आलम को इंग्लैंड में चल रहे आईसीसी विश्वकप के दौरान आचार संहिता नियम का उल्लंघन करने के आरोप में एक वर्ष के लिये घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से निलंबित कर दिया गया है। अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड एसीबी ने इस अवधि के दौरान आफताब के राष्ट्रीय अनुबंध को भी समाप्त कर दिया गया है। अफगान बोर्ड की अनुशासनात्मक समिति ने इस मामले में जांच के बाद आफताब पर नियम उल्लंघन की पुष्टि हुई है। पिछले सप्ताह काबुल में हुयी सालाना आम बैठक में आफताब पर एक वर्ष के निलंबन का फैसला लिया गया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषदआईसीसी ने 27 जून को विश्वकप के दौरान विशेष परिस्थितियों के अंतर्गत आफताब को अफगानिस्तान की विश्वकप टीम से हटा लिया था। बताया जा रहा है कि साउथम्प्टन में एक महिला मेहमान के साथ आफताब ने गंभीर दुर्व्यवहार किया था। आफताब ने अफगानिस्तान के लिये 22 जून को अपना आखिरी मैच साउथम्पटन में भारत के खिलाफ खेला था जिसमें टीम को 11 रन से शिकस्त झेलनी पडी थी। इसी दौरान महिला मेहमान के साथ आफताब ने आपत्तिजनक व्यवहार किया था। इसके बाद टीम के मुख्य कोच फिल साइमंड ने आफताब को आईसीसी की 23 जून को भ्रष्टाचार निरोधक ईकाई की बैठक में पेश नहीं होने के लिये तुरंत प्रभाव से अस्थायी तौर पर दो मैचों के लिये निलंबित कर दिया था। बाद में पता चला था कि अफगान क्रिकेट इस दौरान अपने किसी रिश्तेदार के घर गये हुये थे और बाद में होटल पहुंचे। 26 साल के तेज गेंदबाज छह जून को भारत और पाकिस्तान के ओल्ड ट्रेफर्ड में हुये मैच के दौरान भी परेशानी में आ गये थे। वह इस मैच में बिना बताये आ गये थे और अपने तथा अपने दोस्त के लिये वीआईपी प्रवेश की मांग कर रहे थे। उन्होंने खिलाडियों के मान्यता पत्र का भी उपयोग किया और बिना जानकारी के एक वीआईपी रूम में पहुंच गये और वहां से जाने से इंकार कर दिया। सुरक्षाकर्मियों के चेताने के बाद उनके दोस्त को वहां से जाना पडा लेकिन आफताब वहीं रूके रहे। हालांकि बाद में उन्हें वहां से हटा दिया गया। आफताब को विश्वकप के दौरान अफगानिस्तान के आठ में से तीन ही मैचों में उतार गया जहां उन्होंने चार विकेट निकाले। 

 
 
   
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
सुर्खियां
धनखड पश्चिम बंगाल के और फागु चौहान बिहार के नये राज्यपाल       Lokswami      
टैंकर के चालक दल के 23 सदस्यों में भारतीय भी       Lokswami      
रूस का नाटो से सैन्य वार्ता फिर शुरू करने पर जोर       Lokswami      
संरा ने जापान में आगजनी हमले में लोगों की मौत पर दुख प्रकट किया       Lokswami      
रूस सुनिश्चित करे कि ईरान इसके नागरिकों के अधिकारों का सम्मान करे: कोसाचेव       Lokswami      
डेयरी उद्योग को लेकर दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति को एनजीटी की फटकार       Lokswami      
खुद को मिसफिट एक्टर समझता था :अनिल कपूर       Lokswami      
आलिया भट्ट को अपनी प्रेरणा मानती हैं अनन्या पांडे       Lokswami      
अल्जीरिया 29 साल बाद फिर बना अफ्रीका चैंपियन       Lokswami      
धोनी ने खुद को विंडीज दौरे से किया अलग       Lokswami      
पटेल की शानदार पारी के बावजूद हारा भारत ए       Lokswami      
दिव्या दत्ता को गौर गोपाल दास ने उबारा डिप्रेशन से       Lokswami      
मिशन मंगल की स्क्रिप्ट काफी बेहतरीन :विद्या बालन       Lokswami      
गायक बनने की तमन्ना रखते थे आनंद बख्शी       Lokswami      
39 वर्ष की हुयीं ग्रेसी सिंह       Lokswami      
प्रियंका की गिरफ्तारी प्रजातंत्र का दमन : कांग्रेस       Lokswami      
सिद्धू का इस्तीफा मंजूर ,अमरिंदर संभालेंगे बिजली विभाग का कामकाज       Lokswami      
टंडन को राज्यपाल बनाए जाने पर कमलनाथ ने दी शुभकामनाएं       Lokswami      
प्रियंका को रोकना भाजपा की फासिस्‍टवादी सोच: अजय       Lokswami      
आईसीजे के फैसले के बाद पाकिस्तान जाधव को राजनयिक मदद प्रदान कराने पर राजी       Lokswami